The Razak Khan I Knew: ये शायद कॉमेडियन रज़ाक खान का आखिरी इंटरव्यू है, RIP


“इंडिया में जब तक अपुन की जेब में पैसा, लोग पूछते हैं कैसा है?”

सपनों की नगरी मुंबई में मैं जब इंटरव्यू के सिलसिले में मशहूर कॉमेडियन रज़ाक खान से मिली तो ऐसा लगा ही नहीं कि हम पहली बार मिल रहे हैं। ये मुंबई में मेरा पहला इटंरव्यू था या यूं कहूं कि ये मेरा पहला वीडियो इंटरव्यू था और इसी वजह से मैं थोड़ी नर्वस भी थी।  इंटरव्यू बांद्रा में था, वहीं रज़ाक खान रहते थे। मैं इंटरव्यू के लिए थोड़ा लेट भी हो गई थी।

रज़ाक खान अपने फ्लैट में अकेले ही रहते थे। उनकी पर्सनल लाइफ के बारे में मैं ज़्यादा नहीं जानती। मैं उनसे मिलकर काफी खुश थी, क्योंकि ये वो एक्टर थे जिन्हें बचपन से मैंने लोगों को हंसाते हुए देखा था। आज उनसे मैं खुद मिली तो थोड़ा स्पेशल फील होना लाज़िमी था।

रज़ाक खान की ज़िंदादिली और अपनापन देखने ही वाला था। उनसे बात करते-करते पता ही नहीं चला कब इतना वक्त गुज़र गया। इंटरव्यू के दौरान मैंने उनसे काफी सवाल पूछे और उन्होंने अपने अंदाज में मेरे सभी सवालों के मज़ेदार जवाब दिए।

मैं ये इंटरव्यू पब्लिश करके उन्हें दिखाना चाहती थी मगर भगवान ने उन्हें जल्द ही अपने पास बुला लिया कि उनसे दोबारा मिलने का वादा अब सिर्फ शब्दों की दुनिया में ही रह गया। अब कभी- कभी ऐसा सोचती हूं कि काश उस समय मैं थोड़ी देर और रूक जाती और उनके द्वारा 2 बार ऑफर की गई खिचड़ी को खा ही लेती( उस दिन लंच में उनके घर खिचड़ी बनी थी)। काश!

इस इंटरव्यू को मैं कभी भुला नहीं पाउंगी, क्योंकि मेरे लिए ये एक नए सफर की शुरूआत थी और न ही रज़ाक खान को, क्योंकि वो इस सफर की शुरूआत में मेरे साथ थे।

आज हम ये इंटरव्यू उनके सभी चाहने वालों के लिए लेकर आए हैं। ताकि आप उन्हें आखिरी बार उसी अंदाज में देख सकें, जिसमें उन्हें हमेशा देखते आए हैं, हंसते हुए।

आप लोगों को ये इंटरव्यू कैसा लगा, इंटरव्यू देखने के बाद comment box में बताना न भूलें।

Rest In Peace Razak Khan

You will be missed :’-(

The Razak Khan I Knew: ये शायद कॉमेडियन रज़ाक खान का आखिरी इंटरव्यू है, RIP

“इंडिया में जब तक अपुन की जेब में पैसा, लोग पूछते हैं कैसा है?”

सपनों की नगरी मुंबई में मैं जब इंटरव्यू के सिलसिले में मशहूर कॉमेडियन रज़ाक खान से मिली तो ऐसा लगा ही नहीं कि हम पहली बार मिल रहे हैं। ये मुंबई में मेरा पहला इटंरव्यू था या यूं कहूं कि ये मेरा पहला वीडियो इंटरव्यू था और इसी वजह से मैं थोड़ी नर्वस भी थी।  इंटरव्यू बांद्रा में था, वहीं रज़ाक खान रहते थे। मैं इंटरव्यू के लिए थोड़ा लेट भी हो गई थी।

रज़ाक खान अपने फ्लैट में अकेले ही रहते थे। उनकी पर्सनल लाइफ के बारे में मैं ज़्यादा नहीं जानती। मैं उनसे मिलकर काफी खुश थी, क्योंकि ये वो एक्टर थे जिन्हें बचपन से मैंने लोगों को हंसाते हुए देखा था। आज उनसे मैं खुद मिली तो थोड़ा स्पेशल फील होना लाज़िमी था।

रज़ाक खान की ज़िंदादिली और अपनापन देखने ही वाला था। उनसे बात करते-करते पता ही नहीं चला कब इतना वक्त गुज़र गया। इंटरव्यू के दौरान मैंने उनसे काफी सवाल पूछे और उन्होंने अपने अंदाज में मेरे सभी सवालों के मज़ेदार जवाब दिए।

मैं ये इंटरव्यू पब्लिश करके उन्हें दिखाना चाहती थी मगर भगवान ने उन्हें जल्द ही अपने पास बुला लिया कि उनसे दोबारा मिलने का वादा अब सिर्फ शब्दों की दुनिया में ही रह गया। अब कभी- कभी ऐसा सोचती हूं कि काश उस समय मैं थोड़ी देर और रूक जाती और उनके द्वारा 2 बार ऑफर की गई खिचड़ी को खा ही लेती( उस दिन लंच में उनके घर खिचड़ी बनी थी)। काश!

इस इंटरव्यू को मैं कभी भुला नहीं पाउंगी, क्योंकि मेरे लिए ये एक नए सफर की शुरूआत थी और न ही रज़ाक खान को, क्योंकि वो इस सफर की शुरूआत में मेरे साथ थे।

आज हम ये इंटरव्यू उनके सभी चाहने वालों के लिए लेकर आए हैं। ताकि आप उन्हें आखिरी बार उसी अंदाज में देख सकें, जिसमें उन्हें हमेशा देखते आए हैं, हंसते हुए।

आप लोगों को ये इंटरव्यू कैसा लगा, इंटरव्यू देखने के बाद comment box में बताना न भूलें।

Rest In Peace Razak Khan

You will be missed :’-(

Scroll to top