कैफ़ी आज़मी की याद में : वक्त ने किया क्या हसीं सितम


Happy Birthday Azmi Sir…

अगर भारत के बेहतरीन शायरों की बात होती है तो कैफ़ी आज़मी का नाम बहुत सम्मान से लिया जाता है। उत्तर प्रदेश के आज़मगढ़ जिले के एक छोटे से गांव मिज़वां में 14 जनवरी 1919 को जन्मे कैफ़ी साहब का मूल नाम अख़्तर हुसैन रिज़वी था। उनके जन्मदिन पर कैफ़ी साहब को याद करने का शायद सबसे बेहतर तरीका उनकी शायरी से होकर गुज़रना ही हो सकता है। इस खास मौके पर द मुआ ने आपके लिए चुने हैं कैफी साहब के चंद सबसे खूबसूरत शे’र। पढ़िए और खो जाइये।

FotorCreated1 FotorCreated2 FotorCreated3 FotorCreated4 FotorCreated5 FotorCreated6 FotorCreated7 FotorCreated8 FotorCreated9 FotorCreated10

One comment on कैफ़ी आज़मी की याद में : वक्त ने किया क्या हसीं सितम

  1. nice post bro.

    keep writting

Comments are closed.

कैफ़ी आज़मी की याद में : वक्त ने किया क्या हसीं सितम

Happy Birthday Azmi Sir…

अगर भारत के बेहतरीन शायरों की बात होती है तो कैफ़ी आज़मी का नाम बहुत सम्मान से लिया जाता है। उत्तर प्रदेश के आज़मगढ़ जिले के एक छोटे से गांव मिज़वां में 14 जनवरी 1919 को जन्मे कैफ़ी साहब का मूल नाम अख़्तर हुसैन रिज़वी था। उनके जन्मदिन पर कैफ़ी साहब को याद करने का शायद सबसे बेहतर तरीका उनकी शायरी से होकर गुज़रना ही हो सकता है। इस खास मौके पर द मुआ ने आपके लिए चुने हैं कैफी साहब के चंद सबसे खूबसूरत शे’र। पढ़िए और खो जाइये।

FotorCreated1 FotorCreated2 FotorCreated3 FotorCreated4 FotorCreated5 FotorCreated6 FotorCreated7 FotorCreated8 FotorCreated9 FotorCreated10

Scroll to top