ये होली है जरा हटके: कहीं संतरों, कहीं तरबूजों तो कहीं चिता की राख से खेलते हैं होली


बुरा मानना है तो मान, होली है!

होली मनाने का सबका अलग-अलग तरीका होता है। हम होली को लेकर ऐसे ही कुछ पढ़ रहे थे कि कुछ हैरान होली मनाने के तरीके हमारे सामने आए तो सोचा कि आप लोगों के साथ भी शेयर कर लें।

Mud Festival Of Boryeong (South Korea)

Tourists play in the mud during the Boryeong Mud Festival at Daecheon beach in Boryeong July 18, 2014. About 2 to 3 million domestic and international tourists visit the beach during the annual mud festival, according to the festival organisers. REUTERS/Kim Hong-Ji (SOUTH KOREA - Tags: SOCIETY)

ये कुछ कुछ अपनी देसी होली की तरह है। मैंने खुद अपने गांव में खेतों खलिहानों में कीचड़ वाली होली खेली है। ये मड फेस्टिवल साउथ कोरिया की राजधानी सिओल से 200 किमी दूर Boryeong नाम के शहर में हर साल मनाया जाता है। इसकी शुरू आत 1998 में हुई। हर साल 20 लाख से ज़्यादा इस फेस्टिवल में हिस्सा लेने आते हैं।

 

‘La Tomatina’ in Bunol(Spain)

'La Tomatina' in Bunol, Spain
La Tomatina के बारे में आपने ज़रूर सुना होगा। अगर नहीं सुना तो आपको बता दें कि यह फेस्टिवल स्पेन के Valencian town of Buñol में हर साल मनाया जाता है। अगर आपने ज़िंदगी न मिलेगी दोबारा देखी है, तो उसमें आपके फेवरेट स्टार रितिक कटरीना फरहान और अभय को La Tomatina में भाग लेते दिखाया गया है। टमाटर से खेली जाने वाली ये होली अगस्त महीने के आखिरी बुधवार को होती है।

 

Songkran festival(Thailand)

Songkran festival in Thailand

यह होली बहुत हद तक भारतीय होली जैसी ही होती है। इसमें जमकर पानी की फुहारें उड़ाई जाती हैं। Songkran फेस्टिवल का आयोजन हर साल 13 से 15 अप्रैल तक, थाईलैंड के पारंपरिक न्यू ईयर को सेलिब्रेट करने के लिए किया जाता है। Songkran में लोग एक दूसरे पर जमकर पानी फेंकते हैं।

Clean Monday Flour War Carnival(Greece)

Clean Monday Flour War Carnival, Greece

यकीन मानिए क्लीन मंडे फ़्लोर वॉर कार्निवल में क्लीन कुछ भी नहीं है। इस फेस्टिवल का आयोजन ग्रीस के Galaxidi नाम के शहर में किया जाता है। इसे आम तौर पर मार्च की शुरूआत में मनाया जाता है। इस दिन लोग अपने चेहरों पर पेंट लगाते हैं और एक दूसरे पर रंगीन फ्लोर (बारीक चूना या आटा) फेंकते हैं। इस फेस्टिवल में कई टन फ्लौर उड़ाया जाता है। इस दौरान लोग अपनी आंखों और चेहरे को बचाने के लिए तरह तरह के चश्मे, मास्क और हुड भी पहनते हैं।

Chinchilla Watermelon Festival(Australia)

Chinchilla Watermelon Festival in Australia

जी हां, यहां तरबूज की होली खेली जाती है। ऑस्ट्रेलिया के क्वींसलैंड रीजन के Chinchilla में हर साल इस Watermelon Festival का आयोजन किया जाता है। Chinchilla को ‘Melon Capital of Australia’ भी कहा जाता है। इस फेस्ट का सबसे शानदार हिस्सा वो होता है जब लोग अपने सिर से तरबूज फोड़ते हैं।

The Orange Battle( Italy)

The Orange Battle In Italy

ये फेस्टिवल नॉर्थ इटली के एक शहर Ivrea में मनाया जाता है। हमारी देसी होली की तरह यहां रंगो और पानी का नहीं बल्की संतरों का इस्तेमाल होता है। इसे इटली की सबसे बड़ी फूड फ़ाइट कहा जाता है। यहां लोग जमकर एक दूसरे पर संतरों की गोलाबारी करते हैं।

Holi Celebration In Shamshaan Ghaat(Varanasi)

????????????????????????????????????

काशी के महाश्मशान मणिकर्णिका घाट पर एक तरफ जलती हुई चिताएं होती हैं, तो दूसरी तरफ लोग होली के रंगों में सराबोर होते हैं। इस होली में शिव भक्त गुलाल ही नहीं चिता की राख से होली खेलते हैं। इस होली को चिता भस्म की होली कहते हैं। यह परंपरा सैकड़ों सालों से चली आ रही है।

ये होली है जरा हटके: कहीं संतरों, कहीं तरबूजों तो कहीं चिता की राख से खेलते हैं होली

बुरा मानना है तो मान, होली है!

होली मनाने का सबका अलग-अलग तरीका होता है। हम होली को लेकर ऐसे ही कुछ पढ़ रहे थे कि कुछ हैरान होली मनाने के तरीके हमारे सामने आए तो सोचा कि आप लोगों के साथ भी शेयर कर लें।

Mud Festival Of Boryeong (South Korea)

Tourists play in the mud during the Boryeong Mud Festival at Daecheon beach in Boryeong July 18, 2014. About 2 to 3 million domestic and international tourists visit the beach during the annual mud festival, according to the festival organisers. REUTERS/Kim Hong-Ji (SOUTH KOREA - Tags: SOCIETY)

ये कुछ कुछ अपनी देसी होली की तरह है। मैंने खुद अपने गांव में खेतों खलिहानों में कीचड़ वाली होली खेली है। ये मड फेस्टिवल साउथ कोरिया की राजधानी सिओल से 200 किमी दूर Boryeong नाम के शहर में हर साल मनाया जाता है। इसकी शुरू आत 1998 में हुई। हर साल 20 लाख से ज़्यादा इस फेस्टिवल में हिस्सा लेने आते हैं।

 

‘La Tomatina’ in Bunol(Spain)

'La Tomatina' in Bunol, Spain
La Tomatina के बारे में आपने ज़रूर सुना होगा। अगर नहीं सुना तो आपको बता दें कि यह फेस्टिवल स्पेन के Valencian town of Buñol में हर साल मनाया जाता है। अगर आपने ज़िंदगी न मिलेगी दोबारा देखी है, तो उसमें आपके फेवरेट स्टार रितिक कटरीना फरहान और अभय को La Tomatina में भाग लेते दिखाया गया है। टमाटर से खेली जाने वाली ये होली अगस्त महीने के आखिरी बुधवार को होती है।

 

Songkran festival(Thailand)

Songkran festival in Thailand

यह होली बहुत हद तक भारतीय होली जैसी ही होती है। इसमें जमकर पानी की फुहारें उड़ाई जाती हैं। Songkran फेस्टिवल का आयोजन हर साल 13 से 15 अप्रैल तक, थाईलैंड के पारंपरिक न्यू ईयर को सेलिब्रेट करने के लिए किया जाता है। Songkran में लोग एक दूसरे पर जमकर पानी फेंकते हैं।

Clean Monday Flour War Carnival(Greece)

Clean Monday Flour War Carnival, Greece

यकीन मानिए क्लीन मंडे फ़्लोर वॉर कार्निवल में क्लीन कुछ भी नहीं है। इस फेस्टिवल का आयोजन ग्रीस के Galaxidi नाम के शहर में किया जाता है। इसे आम तौर पर मार्च की शुरूआत में मनाया जाता है। इस दिन लोग अपने चेहरों पर पेंट लगाते हैं और एक दूसरे पर रंगीन फ्लोर (बारीक चूना या आटा) फेंकते हैं। इस फेस्टिवल में कई टन फ्लौर उड़ाया जाता है। इस दौरान लोग अपनी आंखों और चेहरे को बचाने के लिए तरह तरह के चश्मे, मास्क और हुड भी पहनते हैं।

Chinchilla Watermelon Festival(Australia)

Chinchilla Watermelon Festival in Australia

जी हां, यहां तरबूज की होली खेली जाती है। ऑस्ट्रेलिया के क्वींसलैंड रीजन के Chinchilla में हर साल इस Watermelon Festival का आयोजन किया जाता है। Chinchilla को ‘Melon Capital of Australia’ भी कहा जाता है। इस फेस्ट का सबसे शानदार हिस्सा वो होता है जब लोग अपने सिर से तरबूज फोड़ते हैं।

The Orange Battle( Italy)

The Orange Battle In Italy

ये फेस्टिवल नॉर्थ इटली के एक शहर Ivrea में मनाया जाता है। हमारी देसी होली की तरह यहां रंगो और पानी का नहीं बल्की संतरों का इस्तेमाल होता है। इसे इटली की सबसे बड़ी फूड फ़ाइट कहा जाता है। यहां लोग जमकर एक दूसरे पर संतरों की गोलाबारी करते हैं।

Holi Celebration In Shamshaan Ghaat(Varanasi)

????????????????????????????????????

काशी के महाश्मशान मणिकर्णिका घाट पर एक तरफ जलती हुई चिताएं होती हैं, तो दूसरी तरफ लोग होली के रंगों में सराबोर होते हैं। इस होली में शिव भक्त गुलाल ही नहीं चिता की राख से होली खेलते हैं। इस होली को चिता भस्म की होली कहते हैं। यह परंपरा सैकड़ों सालों से चली आ रही है।

Scroll to top