हैप्पी बर्थ डे Big B : अभिनय ही नहीं सिंगिंग के भी शहंशाह हैं अमिताभ, ये हैं उनके सुपरहिट गाने


यक़ीन नहीं होता ये आवाज़ ऑल इंडिया रेडियो पर रिजेक्ट हुई थी।

आज एक ऐसे महानायक का जन्मदिन है जो बॉलीवुड को मिले एक वरदान से कम नहीं हैं। आज बॉलीवुड में शहंशाह श्री अमिताभ बच्चन अपने जीवन के 73 वर्ष पूरे कर चुके हैं। आप जानते हैं कि बिग बी के इस मुश्किलों की कई ज़ंजीरें रही हैं। ज़िंदगी में ‘कभी ख़ुशी, कभी ग़म’ तो लगा ही रहता है और जो इस ‘दीवार’ को पार कर जाए वो ही कहलाता है असली ‘मुक़द्दर का सिकंदर’।

अपनी एक्टिंग से वर्षों से लोगों के दिलों में राज करने वाले बिग बी ने अपनी आवाज़ का जादू भी खूब बिखेरा है।

चलिए आपको बताते हैं उनके गाए कुछ शानदार सुपरहिट गाने…

रंग बरसे – सिलसिला

इस गाने बिना तो मानो होली ही अधूरी सी लगती है। कमाल की बात ये है कि इस गाने के बोल उनके पिता हरिवंश राय बच्चन ने लिखे थे।

एकला चलो रे – कहानी

इस फ़िल्म में अमिताभ ने रबिंद्रनाथ टैगोर की इस मशहूर कविता को बहुत सुरीले अंदाज़ में अपनी आवाज़ दी।

मेरे पास आयो मेरे दोस्तो – नटवरलाल

ये अमिताभ बच्चन द्वारा गाया गया पहला गाना था।

मेरे अंगने में – लावारिस

अमिताभ बच्चन का गाया सबसे नॉटी गाना।

नीला आसमान – सिलसिला

जावेद अख़्तर के लिखे इस गाने को अमिताभ ने जिस अंदाज़ में आवाज़ दी, वह वाकई काबिले तारीफ है।

पिडली सी बातें – शमिताभ

ये बिग बी के गाया सबसे डिफरेंट गाना है। इसे बिग बी ने टॉयलेट की सीट पर बैठकर शूट किया है।

यक़ीन नहीं होता ये आवाज़ ऑल इंडिया रेडियो पर रिजेक्ट हुई थी।

हैप्पी बर्थ डे Big B : अभिनय ही नहीं सिंगिंग के भी शहंशाह हैं अमिताभ, ये हैं उनके सुपरहिट गाने

यक़ीन नहीं होता ये आवाज़ ऑल इंडिया रेडियो पर रिजेक्ट हुई थी।

आज एक ऐसे महानायक का जन्मदिन है जो बॉलीवुड को मिले एक वरदान से कम नहीं हैं। आज बॉलीवुड में शहंशाह श्री अमिताभ बच्चन अपने जीवन के 73 वर्ष पूरे कर चुके हैं। आप जानते हैं कि बिग बी के इस मुश्किलों की कई ज़ंजीरें रही हैं। ज़िंदगी में ‘कभी ख़ुशी, कभी ग़म’ तो लगा ही रहता है और जो इस ‘दीवार’ को पार कर जाए वो ही कहलाता है असली ‘मुक़द्दर का सिकंदर’।

अपनी एक्टिंग से वर्षों से लोगों के दिलों में राज करने वाले बिग बी ने अपनी आवाज़ का जादू भी खूब बिखेरा है।

चलिए आपको बताते हैं उनके गाए कुछ शानदार सुपरहिट गाने…

रंग बरसे – सिलसिला

इस गाने बिना तो मानो होली ही अधूरी सी लगती है। कमाल की बात ये है कि इस गाने के बोल उनके पिता हरिवंश राय बच्चन ने लिखे थे।

एकला चलो रे – कहानी

इस फ़िल्म में अमिताभ ने रबिंद्रनाथ टैगोर की इस मशहूर कविता को बहुत सुरीले अंदाज़ में अपनी आवाज़ दी।

मेरे पास आयो मेरे दोस्तो – नटवरलाल

ये अमिताभ बच्चन द्वारा गाया गया पहला गाना था।

मेरे अंगने में – लावारिस

अमिताभ बच्चन का गाया सबसे नॉटी गाना।

नीला आसमान – सिलसिला

जावेद अख़्तर के लिखे इस गाने को अमिताभ ने जिस अंदाज़ में आवाज़ दी, वह वाकई काबिले तारीफ है।

पिडली सी बातें – शमिताभ

ये बिग बी के गाया सबसे डिफरेंट गाना है। इसे बिग बी ने टॉयलेट की सीट पर बैठकर शूट किया है।

यक़ीन नहीं होता ये आवाज़ ऑल इंडिया रेडियो पर रिजेक्ट हुई थी।

Scroll to top